पीएचएल इंटर्नशिप  -  योजना  (यहां क्लिक करे),  आवेदन  (यहां क्लिक करे)    |   पीएचटीआई मुंबई में बैचलर ऑफ एरोनॉटिक्स एंड एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियरिंग के लिए एडमिशन ओपन   |   चंडीगढ़-शिमला-चंडीगढ़ उड़ानों के लिए संपर्क नं, शिमला के लिए: डॉ विपुल वैद्य - 7018030880, श्री शिवम गुप्ता - 8368557785, चंडीगढ़ के लिए: सुश्री मोहिता शर्मा - 8283091219, सुश्री आलिया हैदर - 7827509985.   |   पोस्ट धारकों के लिए 25/02/19 को वॉक-इन-इंटरव्यू को स्थगित प्रशिक्षक / सीनियर प्रशिक्षक अंग्रेजी संचार और प्रशिक्षक को अगली सूचना तक रोककर रखा जा सकता है।   |   कॉर्पोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी (सीएसआर) और सतत विकास (एसडी) के तहत प्रस्तावों का निमंत्रण   |   पारदर्शिता लेखापरीक्षा के लिए एक ढांचा     |   स्वच्छता शपथ

मुख्य पृष्ठ >> मीडिया >> प्रेस विज्ञप्ति >> पीएचडी चेम्बर ऑफ कॉमर्स के सहयोग से पवन हंस ने चौथी और 5 नवंबर 2017 को रोहिणी, नई दिल्ली में पवन हंस हेलीपोर्ट में "हेली-एक्सपो, इंडिया-इंटरनेशनल सिविल हेलीकॉप्टर कॉन्क्लेव 2017" आयोजित किया।


  05/11/2017

सामान्य नागर विमानन और हेली पर्यटन संसाधनों को बढ़ाने के लिए पवन हंस ने भारत के पहले हेली एक्सपो इंडिया एवं इंटरनेशनल सिविल हेलीकॉप्टर कॉन्क्लेव, 2017 को आयोजित किया। हेली एक्सपो का उत्तराखंड के माननीय पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराजजी, श्री आर. एन. चौबे, सचिव, नागर विमानन मंत्रालय, डॉ. बी. पी. शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, पवन हंस लिमिटेड एवं अन्य गणमान्यों द्वारा उद्घाटन किया गया।


उत्तराखंड के माननीय पर्यटन मंत्री एवं उत्तराखंड पर्यटन विकास मंडल के अध्यक्ष श्री सतपाल महाराजजी ने केंद्र से पहाड़ी राज्यों में हेलीकॉप्टर सेवाओं के माध्यम से अधिकतम हवाई यात्राओं को बढ़ावा देने का आग्रह किया।


हेली एक्सपो इंडिया, 2017 में बोलते हुए सचिव, नागर विमानन मंत्रालय श्री आर एन चौबे ने कहा कि हेलीकोप्टर सेवाओं को रोड पर टैक्सी एवं अन्य यात्राओं जो अपेक्षाकृत अधिक समय लेती हैं के विकल्प के रूप में सेवा करना चाहिए और डायल को कहा कि वह दिल्ली एयरपोर्ट पर हेलीकॉप्टर सेवाओं के विपणन के लिए संभावनाओं की तलाश करे ताकि हवाई यात्रियों के लिए सीधे संपर्क के साथ हेली सेवाओं की शुरुआत हो सके।




निगम मामला विभाग द्वारा तैयार

संपर्क नंबर: 0120-2476703/6710

Vigilance
Rate this site